डेरी पशुओ में थनैला का अंत

अपने डेयरी फार्म से मस्टाइटिस रोग को जड़ से उखाड़ फेंकने और दुग्ध-उत्पादन बढ़ाने का तरीका जानिए

   Watch Promo

यह एक मुफ़्त पाठ्यक्रम है. एक वर्ष के लिए मुफ्त एक्सेस प्राप्त करें.

मस्टाइटिस दुधारू पशुओं में थनों की सूजन है। यह बैक्टीरिया के कारण होता है जो टीट्स के माध्यम से प्रवेश करते हैं। हमारे किसान सचिन के फार्म में एक समस्या थी. उनके पास 20 गाये थी। सचिन ने एक दिन पाया कि उनकी एक गाय ने कम मात्रा में दूध देना शुरू कर दिया। वे इसका कारण नहीं खोज पाये। कुछ दिनों बाद उनकी और दो गायों ने भी कम दूध देना शुरू कर दिया। तो उन्होंने उन्हें कुछ दिनों के लिए इन गायों को पर्यवेक्षण में रखने का फैसला किया। शीघ्रही उन्होंने पाया कि एक गाय पानी-जैसा दूध दे रही थी और अन्य दो गायें परतदार दूध दे रही थी। सूक्ष्म अध्ययन करने पर सचिन ने पाया कि इस तरह का खराब दूध चारों टीट्स में से किसी एक विशेष टीट से निकल रहा था, न कि पूरे थन से।

एक माह बीत गया परन्तु अभी तक सचिन यह पता नहीं लगा पाए कि ऐसा क्यों हो रहा था। इस समय में उन्होंने इन तीनों गायों से उत्पादित लगभग 30 प्रतिशत दूध का नुकसान उठाया। उन्हें खराब गुणवत्ता वाले इस दूध को फेंकना पड़ा क्योंकि यह उनके ग्राहकों को स्वीकार्य नहीं था। और इस तरह दूध की बिक्री से प्राप्त आय में 30% की कमी पायी गयी । न केवल दूध देने वाली गायों ने बल्कि यहां तक कि पहली बार बछड़ा देने वाली गायों ने भी फार्म पर इसी तरह के लक्षण दिखाना शुरू कर दिया था। कई डेयरी फार्मों पर यह एक आम कहानी है। वे सब पशु थनों में जीवाणु संक्रमण, जिसे मस्टाइटिस कहते है, से गंभीर रूप से प्रभावित होते है

जब सचिन मार्गदर्शन के लिए टेपलू आए, तो हमने उन्हें विभिन्न प्रकार के मस्टाइटिस और उनके कारणों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने स्तर दर स्तर वैज्ञानिक प्रक्रिया को सीखा जिससे उन्हें अपने फार्म पर मस्टाइटिस से निपटने हेतु एक मजबूत आधार मिला। हमारा वैज्ञानिक दृष्टिकोण जीवाणु संक्रमण की रोकथाम करने के साथ ही प्रभावित पशुओं का उपचार कर अन्य पशुओं में संक्रमण की पुनरावृत्ति को कम करने पर केन्द्रित होता है। हम मस्टाइटिस या थनैला जैसे रोगों के प्रबंधन में नवीनतम ट्रेंड्स के साथ अपने पाठ्यक्रम को अद्यतित करने के लिए इस क्षेत्र के विशेषज्ञों और शीर्ष संस्थानों के साथ निरंतर सम्पर्करत रहते हैं।

टेपलू में हमने आपके डेयरी फार्म पर मस्टाइटिस या थनैला जैसी बिमारियों की रोकथाम एवं नियंत्रण करने के लिए यह विशेष वीडियो आधारित कोर्स बनाया है। इस पाठ्यक्रम के निर्माण में वर्षों का व्यावहारिक अनुभव रखने वाले विशेषज्ञों और प्रगतिशील किसानों के ज्ञानलाभ को संयोजित किया गया है। मस्टाइटिस को नियंत्रित करने और अपने फार्म से आय बढ़ाने में सचिन को लाभ हुआ।

अपने प्रशिक्षक से मिलें


Your Instructor


डॉ. शैलेश शामराव मदने
डॉ. शैलेश शामराव मदने

डॉ. शैलेश शामराव मदने बैचलर ऑफ़ वेटरनरी साइंस (बीवीएससी) एवं एएच में अनुभवी व्यक्तित्व है जिन्होंने बॉम्बे वेटरनरी कॉलेज, मुंबई से अध्ययन किया है। इनके पास दस वर्षों का पर्याप्त अनुभव है और वे एक प्रसिद्ध डेयरी फार्म सलाहकार हैं। उन्होंने कई किसानों को शुद्ध, अवशिष्ट- मुक्त दूध का उत्पादन करने वाले फार्म स्थापित करने में सहायता की है। बहुत ही सटीक दृष्टिकोण के साथ डेयरी पशुओं की देखभाल पर ध्यान केंद्रित कर इन्होंने किसानों को लाभदायक और लंबे समय तक चलने वाले फार्मों की स्थापना करने में सहायता की है। इन्होंने हजारों किसानों को प्रशिक्षित किया है और उनके कई ज़रूरी समस्याओं को हल करने में मदद की है।

पशुधन संवर्धन से संबंधित क्षेत्र में इनके द्वारा कुछ सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठित कंपनियों को परामर्श प्रदान किया जाता है। जीआरएमएफ पुरस्कार के विजेता के रूप में उन्होंने 3 महीने के लिए कॉर्नेल विश्वविद्यालय, न्यूयॉर्क, संयुक्त राज्य अमेरिका में गुणवत्ता वाले दूध उत्पादन सेवाओं (क्यू. एम्. पि. एस.) की प्रयोगशाला में अध्ययन किया है। उन्होंने महाराष्ट्र के पशुपालन विभाग के प्रसारण विशेषज्ञ के रूप में भी कार्य किया है।


यह कोर्स आपकी मदद कैसे कर सकता है?

आप चाहे एक डेयरी किसान, छात्र, प्रशिक्षक या डेयरी उद्योग में किसी कंपनी में काम करने वाले पेशेवर हों, मस्टाइटिस पर यह कोर्स आपके लिए सहायक सिद्ध हो सकता है। मस्टाइटिस डेयरी फार्मों पर होने वाली सबसे आम समस्या है और यदि आप मस्टाइटिस की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु व्यावहारिक ज्ञान का अनुभव प्राप्त करते हैं तो आप अपने हर व्यवसायिक कदम पर लाभप्रद स्थिति में खड़े होंगे।

चूंकि यह पाठ्यक्रम वीडियो के माध्यम से भौतिक रूप से उपलब्ध फार्म पर शूट किए गए व्यावहारिक प्रदर्शनों द्वारा समाधान सिखलाता है, इसलिए आपको जमीनी स्तर की समस्याओं को सुलझाने में एक वास्तविक जीवन-सा अनुभव मिलता है। हमारी प्रोडक्शन टीम ने विभिन्न फर्मों का परिभ्रमण करने और वीडियो इकट्ठा करने हेतु काफी समय बिताया है जिससे आपको सीखने का एक अच्छा अनुभव दिया जा सके। इसमें उपलब्ध चित्रमय डिजिटल सामग्री आपको वास्तविक धरातल पर आसानी से बीमारी के लक्षणों की पहचान करने और समुचित समाधान याद रखने में मदद करती है।

हमारे द्वारा अध्ययन-सामग्री इतनी सादगी के साथ डिज़ाइन की गई है कि सीमित साक्षरता और कौशल रखने वाला कोई दस साल का बच्चा भी इसके माध्यम से सीख सकता है और उन्हें अपने फार्म पर लागू/ अधिरोपित कर सकता है। यह पाठ्यक्रम आपको ऐसी तकनीकों के उपयोग सिखाएगा, जिनमे किसी बड़े निवेश की आवश्यकता नहीं होती है. मस्टाइटिस को नियंत्रित कर दुग्ध-उत्पादन में वृद्धिगत सुधार करने में भी मदत होगी। इस हेतु अधिकांश आवश्यक सामग्री स्थानीय रूप से उपलब्ध है अतः आप अपने घर पर आराम से बैठे हुए, वास्तविक रूप से व्यवहारिक अनुभव प्राप्त कर सकते हैं।

यह पाठ्यक्रम आपको केवल मस्टाइटिस को नियंत्रित करने और उन्मूलन करने में ही सहायक नहीं होगा , बल्कि आप अपने डेयरी फार्मिंग व्यवसाय या पेशे के लिए एक महत्वपूर्ण वैज्ञानिक आधार भी बना सकेंगे।

पाठ्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा करने पर प्रमाणपत्र प्राप्त करें

 

"अपने कैरियर की संभावनाओं को बढ़ाये "

Course Curriculum



Mastitis affected udder and milk in dairy farm. Prevent diseases to make profits in dairy farming

मस्टाइटिस रोग प्रबंधन पर इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप निम्नलिखित कर सकेंगे:

Udder infection in cows

थनैला या मस्टाइटिस के लक्षणों की पहचानs

Mastitis of udder in young animals in dairy farm.

पहली बार बछिया देने वाले पशुओं में मस्टाइटिस की रोकथाम

First calf heifers suffer from mastitis in dairy farms if not cared for properly

ड्राई काऊ (बिसुखन) मस्टाइटिस का नियंत्रण

avoid dry cow mastitis in dairy farming by proper intubation

दूध देने वाली गायों में मस्टाइटिस की रोकथाम

For dairy farming course Teplu consults top institutions like IVRI and visits dairy farms

Frequently Asked Questions


डेरी फार्मिंग पे यह पाठ्यक्रम कब शुरू और कब खत्म होता है?
कोर्स तब शुरू होता है जब आप नामांकन करते हैं और एक वर्ष के बाद समाप्त होता हैं!! यह पूरी तरह से सेल्फ-पेस्ड/ स्व-चलित ऑनलाइन पाठ्यक्रम है - आप स्वयं ही तय करते हैं कि आप इसे कब शुरू और कब समाप्त करना चाहते हैं इस अवधि में ।
पशुपालन पे इस कोर्स को कब तक इस्तेमाल/एक्सेस कर पाएंगे ?
एक साल तक के लिए। यह एक मुफ़्त पाठ्यक्रम है । कोर्स में प्रवेशित होने के बाद आपके पास किसी भी मोबाइल या डिवाइस के द्वारा एक वर्ष के लिए इस पाठ्यक्रम को असीमित रूप से इस्तेमाल/एक्सेस किया जा सकता है।
क्या हम अपने प्रशिक्षक से पारस्परिक-संवाद कर सकते है ?
हम चाहते हैं कि आप इस पाठ्यक्रम से सर्वश्रेष्ठ सीखें । आप हमेशा प्रत्येक वीडियो के बाद में दिए गए कमेंट सेक्शन के माध्यम से प्रशिक्षक के साथ पारस्परिक-संवाद कर सकते हैं। प्रशिक्षक पाठ्यक्रम से सम्बंधित आपके सभी प्रश्नों का उत्तर देंगे।
यदि मेरे पास कोई अन्य प्रश्न/समस्या हैं तो क्या मुझे उत्तर मिलेगा ?
इस पाठ्यक्रम के उपयोगकर्ता के रूप में आपको हर समय हमारी सहायता प्राप्त होगी । आप अपने किसी भी प्रश्न के लिए [email protected] पर हमें लिख सकते हैं । हम आपको जल्द से जल्द उत्तर देंगे।
यह पाठ्यक्रम किसके लिए लागू है? क्या मुझे इस कोर्स को करने के लिए कुछ योग्यताओं की आवश्यकता है?
इस कोर्स का उद्देश्य डेयरी किसानों, छात्रों, पेशेवरों, उद्यमियों को लाभ पहुंचाना है जो नए डेयरी फार्म स्थापित करना चाहते हैं या उनके मौजूदा डेयरी फार्मों में सुधार लाना चाहते है। हमारे टेक्नोलॉजी प्लेटफ़ॉर्म का उपयोग बड़े पैमाने पर प्रशिक्षण और विकास के लिए गैर-सरकारी संगठनों (NGO), कंपनियों और अन्य ऐसे संस्थानों द्वारा किया जा सकता है। इस ऑनलाइन कोर्स के लिए आपको किसी योग्यता की कोई आवश्यकता नहीं है। वास्तव में हमारे वीडियो आधारित पाठ्यक्रम इतनी सरलता के साथ डिज़ाइन किए गए हैं कि कोई भी व्यक्ति खेत में वैज्ञानिक प्रक्रियाओं को सीख कर लागू सकता है।

Get started now!